टेस्ट खिलाड़ियों के टीम में न होने पर कैसी होगी भारत की टी20 टीम?

भारत के खिलाफ टेस्ट दौरे से पहले ऑस्ट्रेलिया अपने घर में श्रीलंका के खिलाफ 3 टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी। टेस्ट सीरीज से ठीक पहले टी20 सीरीज का ऑस्ट्रेलिया का कार्यक्रम बहुत ही अजीब लगता है। क्योंकि ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट और टी20 दोनों टीमें एक दूसरे से अलग हैं। टेस्ट और टी20 के लिए अलग -अलग टीमें चुनी गई हैं।

इसमें कोई दो राय नहीं है कि आजकल कई खिलाड़ी टेस्ट और वनडे क्रिकेट से ज्यादा महत्व टी 20 क्रिकेट को दे रहे हैं। टी20 क्रिकेट टेस्ट क्रिकेट से काफी अलग है। टी 20 क्रिकेट के खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट के खिलाड़ियों से अलग हैं। हालांकि डेविड वॉर्नर और क्विंटन डी कॉक जिस तरह से टी 20 क्रिकेट में विस्फोटक बल्लेबाज की भूमिका निभाते हैं, ठीक वैसे ही ये दोनों खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट को भी अपने खेल को फॉर्मेट के हिसाब से ढालने में माहिर हैं।

लेकिन क्या एलिस्टेयर कुक, अजहर अली और दिमुथ करुणारत्ने टेस्ट की तरह ही टी 20 क्रिकेट में अच्छा कर सकते हैं? चलिए कल्पना करते हैं टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी टी 20 क्रिकेट में हिस्सा नहीं ले सकते तो भारत की टी 20 कैसी होगी?

आइए नजर डालते हैं भारतीय टी 20 टीम पर जिसमें टेस्ट क्रिकेटर शामिल न हों: (बांग्लादेश के खिलाफ होने एक टेस्ट मैच के लिए चुनी गई टीम पर नजर डालते हैं)

#1 शिखर धवन/ मनदीप सिंह

बाएं हाथ के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन को बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट टीम में नहीं चुना गया है। लिहाजा शिखर टी 20 क्रिकेट में बतौर ओपनर फिट बैठते हैं। हालांकि उनकी हाल के प्रदर्शन को देखते हुए, अगर टी 20 में उनकी जगह पंजाब के युवा बल्लेबाज मनदीप सिंह को शामिल किया जाए तो इसमें कोई हैरानी नहीं होगी।
धवन ने अबतक 22 टी 20 मैच खेले हैं। उन्होंने अपना आखिरी टी 20 मैच वर्ल्ड टी 20 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। हालांकि मनदीप सिंह ने अबतक एक भी अंतर्राष्ट्रीय टी 20 मैच नहीं खेला लेकिन आईपीएल में आरसीबी की ओर से मनदीप ने अच्छा प्रदर्शन किया है।

#2 ऋषभ पंत

दिल्ली के विकेटकीपर ओपनर बल्लेबाज ऋषभ पंत की जगह टी 20 टीम में ओपनर बल्लेबाज के तौर पर बनती है। लेकिन ये भी देखना होगा ऋषभ पंत खुद को टेस्ट क्रिकेट से कबतक दूर रख पाते हैं। पंत एक बिग हिटर और वो अंडर 19 वर्ल्ड कप और रणजी ट्रॉफी में खुद को साबित भी कर चुके हैं।

पंत को इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टी 20 मैच प्लेइंग इलेवन में मौका मिला लेकिन बैटिंग में वो नीचे बल्लेबाजी करने आए जिसकी वजह से उनके पास करने को ज्यादा कुछ नहीं था। पंत के अटैकिंग खेल को देखते हुए उन्हें टॉप ऑडर्र में अच्छे विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है।

#3 सुरेश रैना (उपकप्तान)

सुरेश रैना टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं है। लिहाजा टी 20 क्रिकेट में वो नंबर 3 पर विराट कोहली की जगह ले सकते हैं। छोटे फॉर्मेट में रैना ने बड़ा प्रदर्शन किया है टी 20 क्रिकेट में रैना के नाम एक शतक भी दर्ज है।
रैना आईपीएल में तीसरे नंबर पर चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से बतौर उपकप्तान खेलते हैं टी 20 क्रिकेट में रैना का औसत 29.90 का है। हाल ही इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टी 20 मैच में रैना ने अर्धशतकीय पारी खेली थी।

#4 युवराज सिंह

पंजाब के ऑलराउंडर युवराज सिंह को टी 20 स्पेशलिस्ट कहा जा सकता है। टी 20 टीम में युवराज सिंह नंबर 4 पर फिट बैठते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे टीम में वापसी करते हुए युवराज सिंह ने वनडे क्रिकेट का अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया था। युवराज ने उस मैच में 150 रन बनाए थे।

बल्ले के साथ साथ युवराज पार्ट टाइम स्पनिर के तौर पर भी टीम में अहम योगदान दे सकते हैं। युवराज ने भारत के लिए 58 टी 20 मैच खेले हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 8 अर्धशतकीय पारियां भी निकली हैं। जबकि युवराज ने 28 अहम विकेट भी अपने नाम किए।

#5 एम एस धोनी , कप्तान

एम एस धोनी के टी 20 कप्तान होने पर विराट कोहली की टी 20 टीम में जगह नहीं बनती। धोनी किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 में खेले गए पहले टी 20 वर्ल्ड कप में कब्जा जमाया था। धोनी वर्ल्ड क्रिकेट के बेस्ट फिनिशर भी हैं टी 20 टीम में धोनी पांचवे नंबर पर फिट बैठते हैं।

ये बहुत जरूरी है कि टी 20 में आप अपने अच्छे बल्लेबाजों को टॉप -5 में खिलाएं और धोनी को नंबर 6 से नंबर 5 पर प्रोमोट करें।

#6 मनीष पांडे

टेस्ट टीम में नंबर 6 पोजीशन के लिए केदार जाधव और मनीष पांडे के बीच जबरदस्त कॉम्पिटिशन है। केदार जाधव ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया था। तो वहीं मनीष पांडे भी फिनिशर के रोल में फिट बैठते हैं। पांडे आईपीएल में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज भी है।

जाधव ने अबतक 5 टी 20 मैच खेले हैं, जिसमें से आखिरी बार उन्होंने जून 2016 में जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला था।

#7 परवेज रसूल

कश्मीर के ऑलराउंडर परवेज रसूल अच्छे टी 20 खिलाड़ी हैं और आर अश्विन, जडेजा और मिश्रा की गैरमौजूदगी में रसूल मिडिल ओवर्स में जिम्मेदारी बखूबी निभा सकते हैं। रसूल गेंद को अच्छे से फ्लाइट करते हैं जिससे बल्लेबाज को उनकी गेंदों को पढ़ने में दिक्कत होती है।

रसूल बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं जिसकी चलते वो टीम में एक स्पिन ऑलराउंडर का रोल अदा कर सकते हैं।

इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में खेली गई टी 20 सीरीज में रसूल को सिर्फ एक मैच में खेलने का मौका मिला था। 38 घरेलू टी 20 मैचों में रसूल ने 38 विकेट हासिल किए हैं। जिसमें उनका बेस्ट 17 रन देकर 3 विकेट है।

#8 युजवेंद्र चहल

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने आईपीएल में रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु की और से खेलते हुए सभी का ध्यान अपनी और खींचा। छोटे फॉर्मेट में चहल के बड़े प्रदर्शन के चलते उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ टी 20 सीरीज में जगह मिली। इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी 20 मैच में चहल ने गेंदबाजी की शुरूआत की थी हालांकि चहल मिडिल ओवर्स में ज्यादा कामयाब होते हैं।

भारत में लिमिटेड ओवर्स के क्रिकेट में रिस्ट स्पनिर्स को ज्यादा सफलता मिलती है और इस काल्पनिक टी 20 टीम में चहल को शामिल करने से टीम को और ज्यादा मजबूती मिलेगी।

चहल ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टी 20 मैच में शानदार लेग स्पिन का मुजाहिरा करते हुए 25 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे। जो टी 20 क्रिकेट में तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

#9 धवल कुलकर्णी

गुजरात लायंस के तेज गेंदबाज धवल कुलकर्णी दाएं हाथ के शानदार स्विंग गेंदबाज हैं। आईपीएल 2016 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में धवल चौथे नंबर रहे थे धवल के पास बहुत ज्यादा वैराइटी हैं। जिसमें वो स्लो बॉल, ऑफ कटर और स्लो बाउंसर का अच्छा इस्तेमाल करता है।

कुलकर्णी ने अबतक भारत के लिए सिर्फ 2 टी 20 मैच खेले हैं। 2016 के जिम्बाब्वे दौरे पर भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव के गैरमौजूदगी में उन्होंने आखिरी बार जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला था।

#10 आशीष नेहरा

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा आज भी टीम के लिए मैच विनर साबित हो सकते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी 20 मैच में टीम इंडिया को जीत दिलाने में नेहरा ने अहम भूमिका निभाई थी। नेहरा ने उस मैच में बेन स्टोक्स को आउट कर भारत की मैच में वापस करवाई थी।

हालांकि उम्र नेहरा के साथ नहीं है लेकिन अपने प्रदर्शन से उन्होंने कई बार साबित किया है कि उम्र महज एक नंबर है और इस काल्पनिक टी 20 साइड में नेहरा को शामिल करना टीम के लिए बहुत अच्छा रहेगा। नेहरा का टी 20 रिकॉर्ड भी अच्छा रहा है उन्होंने 21.44 की औसत से 26 टी 20 मैचों में 34 विकेट चटकाए हैं।

#11 जसप्रीत बुमराह

क्रिकेट सनसनी जसप्रीत बुमराह लिमिटेड ओवर्स में टीम इंडिया के नंबर 1 गेंदबाज हैं। बुमराह अपनी यॉर्कर और स्लो डिलीवरी से विरोधी बल्लेबाजों को चकमा देने में कामायाब रहते हैं। आईपीएल के दौरान डग आउट में बैठकर बुमराह ने लसिथ मलिंगा से यॉर्कर की बारिकियां सीखी और अपने अहम हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया।

बुमराह इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी 20 मैच में जीत के हीरो रहे थे। जबतक बुमराह को टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया जाता तब तक वो टी 20 में टीम इंडिया के स्ट्राइक बॉलर हैं और इस टी 20 साइड के अटैक को लीड करने के लिए बेस्ट गेंदबाज हैं। 2016 में टी 20 क्रिकेट में बुमराह ने 28 विकेट चटकाए हैं। जो किसी भी गेंदबाज द्वारा सबसे ज्यादा विकेट हैं।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s